Friday, 18 November, 2011

happy 2nd birthday my angel ....



Happy 2nd birthday my Wonderful Daughter ...... Nov.16 , on this day in 2009 i held my new born baby girl in my arms. We had our perfect prize - a beautiful , robust & healthy daughter. woohooooooo........... Wonderful day of my life with lots of joy & happiness . You r d princess of our world. Today is a vry Special day, & not just bcoz it is your birthday but bcoz it is d day when i first saw my Angel . Happy birthday my Darling Puravi....... how lucky your mom. I am glad god gave you 2 me .A daughter is a day brighter & a heart warmer ! Love u my loving loving daughter Tanishka ( Puravi

Sunday, 31 July, 2011

नींद




गहरी थकान के बाद ,
सुकून भरी नींद और ........
सपनो को नींद मे आने का इंतज़ार ,
कुछ खट्टे .......... कुछ मीठे ..........
कुछ अपने ......... कुछ पराये ..........
कुछ यादों को ताज़ा करने वाले ,
और कुछ नया याद दिलाने वाले ,
बस ......
सुकून भरी नींद बच्चे की आखों मे होती हें ,
और बड़ो की आखों मे ..........
आने वाले कल का इंतज़ार ,
जो सोते हुए को भी जगा कर रखती हें ,
नींद .........
कुछ खट्टी - कुछ मीठी यादों के साथ

Wednesday, 2 March, 2011

महाशिव रात्रि का महत्त्व .......




महाशिव रात्रि २०११ आप सभी के लिए मंगल कारी हो ..........


कहा जाता हें की इस दिन भगवान शंकर और माता पार्वती जी शादी हुई थी !


इस लिए यह पर्व मनाया जाता हें


और यह रात्रि भगवान शंकर की रात्रि कही जाती हें !


और इस दिन विवाहित स्त्री अपने पति वह अपने बच्चे की मंगल कामना करती हें !


और अविवाहित स्त्री एक acche पति की कामना से उपवास रखती हें !


महाशिव रात्रि का अर्थ हें शिव की रात्रि ..........

Friday, 29 October, 2010

मेरी नन्ही बिटिया







surya की पहली किरण सा मुस्कुरा कर उठना,

और माँ के दिल को छु जाना ,

अपनी नटखट अदाओ से सबको लुभाना ,

लेकिन किसी के पास न जाना ,

अम्मा अम्मा कहकर बुलाना

और परदे के पीछे छिप जाना,

छिपकर ता ..... करना ,

चुपके से पीछे आना और ............

काट जाना,

माँ के डांटने पर,

माँ के चिपकर मुस्कुराना

और अपनी भोली अदाओ से माँ को रिजाना,

नन्हे - नन्हे कदमो से माँ के आगे पीछे गुमना,

और ताली बजाकर राधे - राधे करना ...........

ऐसी हे मेरी नन्ही बिटिया ..........

हँसना






हँसना नवजात का इस दुनिया मे आना,



और मुस्कुरा कर सब को अपना बना लेना,



हँसना रवि की प्रथम किरण सा,



हँसना पूर्णिमा के चाँद सा,



हँसना तारो का जिलमिलाना



हँसना आकाश मे उड़ते पंछी सा,



हँसना कानन के नवजात हिरन सा,



हँसना तपती धुप मे ,



पेड़ की निर्मल छायासा,



हँसना दूसरों की मुस्कराहट मे ,



अपनी हंसी खोजना !



हँसना इसी का नाम है !

Saturday, 31 January, 2009

नन्हा सा ख़त


यह क्या !
इतना नन्हा सा ख़त
जो तुमने मुझे जवाब में भेजा !
क्या तुमसे यह नन्हा ख़त भी
नहीं भरा गया
अपनी नोट बुक से फाड़ा गया
छोटा सा कागज टुकड़ा भी
नहीं भरा गया............
प्यार के दो लफ़्ज जो
जो दिल कि ...........

जो दिल की गहराईयो से निकलकर
सब तरफ़ रोनक व खुशिया
बिखेर देते हें........
लेकिन नहीं ........
तुमसे नहीं लिखा गया ........
तुम mausam के बारे में लिख सकते थे
या कोई ऐसी बात जिसके बारे में
लोग तब कहते हें
जब उनके पास बात करने के लिए
कुछ नहीं होता ,
जैसे की...........
चाँद तारों के बारे में लिख सकते थे
लेकिन नहीं..........
इतना नन्हा सा ख़त भी
तुमसे नहीं भरा गया .......
अपनी नोट बुक से फाड़ा गया
एक नन्हा सा पन्ना भी.........
अगर मै .................
तुम्हे ख़ुद लिखने बैठती हू..........
तो जगह भी कम पड़ती है ..............








Wednesday, 28 January, 2009

माँ

कोई कहे की आप ने इश्वर को देखा हें
तो मै कहूँगी
हा मैंने इश्वर को देखा हें
मेरी माँ में
जब पहली बार
इस दुनिया में आई
और आँख खोली तो
माँ को देखा
माँ की मंद मंद मुस्कान को देखा
मेरी पहली गुरु
मेरी माँ ही हें
जिन्होंने हर कदम
पर मेरा साथ दिया
माँ मेरी सहेली बनी
सारा काम छोड़ कर
घंटो माँ से बातें करती
जब मै बिमार हो जाती
तो माँ मेरा माथा चूमती
और कहती बेटा
अभी ठीक हो जाओगी
जब मै रोने लगती तो
माँ अपार स्नेह देती और
प्यार से गले लगाती
अपनी परवाह किया बिना
दिन रात मेरी परीक्षा में जागती
माँ आप जैसा इस दुनिया
में कोई नहीं
माँ आप साक्षात् इश्वर हें...............



Sunday, 25 January, 2009

आज का विचार .............


हें इश्वर !

मुझे उन बातों को

स्वीकार करने की

shakti दे ! जिन्हें मै

बदल नहीं सकती ,

और उन चीजों को

जिन्हें मै बदल सकती हू

उन्हें बदलने का साहस दे

और दोनों मै मुझे अन्तर

जानने की बुद्धि दे !

धन्यवाद !

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभ कामना ..........


आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामना

हम सभी मिलकर एक नए भारत का निर्माण करे

जहा हर तरफ खुशहाली हो , सबके चहरे पर मुस्कान हो

आज का विचार ..........

हमारे सोचने का तरीका
स्वर्ग को नरक व
नरक को स्वर्ग बना देता हें ..................

इस लिए अच्छा सोचे ...........

Friday, 23 January, 2009

नन्ही छाँव .............


नहीं मारो मुझे अपने गर्भ में माँ ... ...

आज मुझे जी लेने दो,

कल मैं एक नन्ही छाँव बनकर आपको ख़ुशियाँ दूँगी ... ...

आप पर कभी बोझ नहीं बनूँगी ... ...

बस आज मुझे जन्म ले लेने दो माँ ... ...

कल आपके जीवन में,

मैं बहुत सी ख़ुशियाँ भर दूँगी ... ...

इस संसार में मुझे आने से मत रोको,

क्या आप मुझे घर, परिवार, समाज के डर से मार रही हैं?

क्योंकि मैं एक लड़की हूँ ... ...

आप तो चाहती हैं न माँ, मैं जन्म लूँ ... ...

तो बस आप समाज या परिवार की परवाह मत करो ... ...

क्या आप इतनी निष्ठुर हो सकती हैं ... ...

अपने ही अस्तित्व को गर्भ में ही मिटा देंगी ... ...

सिर्फ़ परिवार, समाज के डर से ... ...

नहीं माँ, नहीं ... ...

मैं आपके आँगन में ख़ुशियों के फूल खिला दूँगी ... ...

मैं एक नन्ही छाँव, मुझे इस संसार में आने दो माँ ... ...

आज का विचार ...........

" अपना मूल्य समझो और विश्वास करो की ,
आप संसार के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति हें "

Wednesday, 21 January, 2009

आज का विचार ..........

" आप के पास एक रुपया हें,
और मेरे पास भी एक रुपया हें,
अगर हम इनको बदल दे ,
आपका रुपया मेरे पास वह मेरा रुपया आपके पास
तो हम दोनों के पास एक एक रुपया ही होगा ,
लेकिन मेरे पास कोई अच्छा विचार हें...........
और आप के पास कोई अच्छा विचार हें
हम उनको आपस में बदल दे तो हम दोनों के पास दो अच्छे विचार हो जायंगे ............."

Tuesday, 20 January, 2009

गुनगुनी धूप..............


सर्दी की इस गुनगुनी धूप में ,
आज सूरज का एक अलग ही अंदाज नजर आ रहा हें

सब धूप की तरफ दोड़ रहे हें

सूरज देवता भी कम नही हें,

कभी निकलते हें और

कभी बादलो में अपने आप को छिपा late हें ,

जेसे इंसान रंग बदलता हे वैस ही ,
तो फ़िर सूरज देवता कहा पीछे रहने में हें भला ................

आज का विचार ..........

'' जो सम्मान आप चाहते हें,

वही सम्मान दूसरो को भी दे ''