Wednesday 2 March 2011

महाशिव रात्रि का महत्त्व .......




महाशिव रात्रि २०११ आप सभी के लिए मंगल कारी हो ..........


कहा जाता हें की इस दिन भगवान शंकर और माता पार्वती जी शादी हुई थी !


इस लिए यह पर्व मनाया जाता हें


और यह रात्रि भगवान शंकर की रात्रि कही जाती हें !


और इस दिन विवाहित स्त्री अपने पति वह अपने बच्चे की मंगल कामना करती हें !


और अविवाहित स्त्री एक acche पति की कामना से उपवास रखती हें !


महाशिव रात्रि का अर्थ हें शिव की रात्रि ..........

1 comment:

  1. महाशिवरात्रि की शुभकामनाएँ, मन से, क्योंकि -
    मन-मंदिर में रहते हैं वे!

    ReplyDelete