Sunday 31 July 2011

नींद




गहरी थकान के बाद ,
सुकून भरी नींद और ........
सपनो को नींद मे आने का इंतज़ार ,
कुछ खट्टे .......... कुछ मीठे ..........
कुछ अपने ......... कुछ पराये ..........
कुछ यादों को ताज़ा करने वाले ,
और कुछ नया याद दिलाने वाले ,
बस ......
सुकून भरी नींद बच्चे की आखों मे होती हें ,
और बड़ो की आखों मे ..........
आने वाले कल का इंतज़ार ,
जो सोते हुए को भी जगा कर रखती हें ,
नींद .........
कुछ खट्टी - कुछ मीठी यादों के साथ

1 comment: